Follow by Email

सोमवार, 13 अप्रैल 2015

बाजलि बैरनि रे बाँसुरिया - BhojpuriKa

बाजलि बैरनि रे बाँसुरिया - BhojpuriKa

बाजलि बैरनि रे बाँसुरिया,
टूटल सिवसंकर के ध्यान,
केथुवा चढ़ल सिवसंकर आवें,
केथुवा चढ़ल भगवान,
बाजलि बैरनि रे बाँसुरिया…!

1 टिप्पणी:

  1. आदरणीय,
    विचरण के दौरान कुछ देखा, कुछ पढ़ा। मेरा mob no है 98101 75430 ।
    पढ़ कर बहुत सुखद अनुभूति हुई।

    उत्तर देंहटाएं